Wednesday, February 8, 2023
spot_img
HomeCrime Faridabadसरूरपुर पंचायत चुनाव में काउंटिंग के दौरान हंगामा करके वाले नामजद 4...

सरूरपुर पंचायत चुनाव में काउंटिंग के दौरान हंगामा करके वाले नामजद 4 आरोपियों सहित करीब 200 के खिलाफ मुकदमा दर्ज, 20 आरोपी गिरफ्तार

पुलिस तथा ड्यूटी मजिस्ट्रेट द्वारा हारने वाले पक्ष को नियमानुसार समझाने की कोशिश की परंतु उनके द्वारा पुलिस पर पथराव करने पर की गई कानूनी कार्यवाही

गिरफ्तार के लिए 20 आरोपियों को आज अदालत में पेश किया गया था जहां से उनको 14 दिन के लिए जेल भेज दिया गया है

दुर्घटना सीसीटीवी फुटेज और वीडियो रिकॉर्डिंग के माध्यम से मामले में शामिल अन्य आरोपियों की पहचान की जा रही है जिनके खिलाफ कानून के तहत कार्रवाई सख्त कार्रवाई की जाएगी

सरकारी कार्य में बाधा डालने वाले आरोपियों के खिलाफ की जाएगी सख्त कानूनी कार्रवाई-पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा

फरीदाबाद: थाना मुजेसर एरिया में स्थित सरूरपुर गांव में कल पंचायत चुनाव के दौरान हारने वाले पक्ष के द्वारा सरकारी कर्मचारियों पर पथराव करके सरकारी कार्य में बाधा डालने के मामले में पुलिस ने 20 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा ने मामले में शामिल आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों में रणसिंह, बंटी, टेकचंद, विनोद, सतीश, प्रहलाद, राजेश, मनोज, विक्रम, दीपक, जितेंद्र, सुखपाल, सुंदर, बनय, प्रेमचंद, प्रेम, लक्ष्मण, सुनील, विकास तथा सतपाल का नाम शामिल है। पुलिस को दी अपनी शिकायत में डॉक्टर विवेक आनंद ने बताया कि कल उनको पंचायत चुनाव के लिए सरूरपुर में बतौर ड्यूटी मजिस्ट्रेट के तौर पर नियुक्त किया गया था। वोटिंग खत्म होने के पश्चात सरपंच पद की गिनती शुरू हुई जिसमे मकसूदन को विजय घोषित कर दिया गया जिसपर दूसरा पक्ष हारने वाले पक्ष के उम्मीदवारों और एजेंट ने हंगामा करना शुरू कर दिया और चुनाव दोबारा से करने का दबाव बनाने लगे और उन्होंने गांव के अन्य लोगों को इकट्ठा कर लिया। ड्यूटी मजिस्ट्रेट और पुलिस ने हारने वाले पक्ष को नियमानुसार समझने की कोशिश की परंतु वह नहीं माने और पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया जिसमें कई पुलिसकर्मियों को गंभीर चोट लगी और पुलिस की गाड़ियों को काफी नुकसान हुआ। ड्यूटी मजिस्ट्रेट के आदेश अनुसार हल्के बल का प्रयोग करके भीड़ को खदेड़ा गया और ईवीएम मशीनों को सुरक्षित से हाउस पहुंचाया गया। शिकायत के अनुसार मुजेसर थाने में आरोपियों के खिलाफ सरकारी प्रक्रिया में बाधा डालने सरकारी कर्मचारियों पर पथराव करके सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया। चुनाव प्रक्रिया के दौरान हुए पथराव में सीसीटीवी फुटेज और वीडियो चेक की जा रही है जिसके माध्यम से मामले में शामिल अन्य आरोपियों की पहचान की जा रही है और उन्हें भी जल्द गिरफ्तार करके कानून के तहत कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

पुलिस प्रवक्ता।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments